当前位置: बेस्ट गेम कंसोल > मैटल क्लासिक बेसबॉल > मैटल क्लासिक बेसबॉल Oxford Corona Vaccine: ऑक्सफॉर्ड कोविड-19 वैक्सीन के परीक्षण को लेकर डीस
随机内容

मैटल क्लासिक बेसबॉल Oxford Corona Vaccine: ऑक्सफॉर्ड कोविड-19 वैक्सीन के परीक्षण को लेकर डीस

时间:2020-09-15 06:05 来源:बेस्ट गेम कंसोल 点击:189
russian covid-19 vaccine in hindi डीसीजीआई ने कहामैटल क्लासिक बेसबॉल, सीरम इंस्टीट्यूट वैक्सीन ट्रायल फिर से शुरू करने की अनुमति ले।

Oxford Corona Vaccine: भारतीय औषधि महानियंत्रक (DCGI) ने भारतीय सीरम संस्थान (Serum Institute Of India) से कहा है कि वह भविष्य में कोविड-19 वैक्सीन परीक्षण के लिए स्वयंसेवकों की नई भर्तियां करने से पहले उनके कार्यालय (डीसीजीए) से पूवार्नुमति के लिए ब्रिटेन और भारत में डाटा एंड सेफ्टी मॉनिटरिंग बोर्ड (डीएसएमबी) से मिली मंजूरी जमा कराए। डीसीजीआई वी.जी. सोमानी ने कहा है कि तब तक परीक्षण के लिए अन्य भर्ती निलंबित कर दी गई है। Also Read - लॉकडाउन से 78 हजार लोगों की जान बचाना हुआ मुमकिनमैटल क्लासिक बेसबॉल, 29 लाख कोविड मामलों से बच सका भारतमैटल क्लासिक बेसबॉल, को रोकने में मदद मिली : हर्षवर्धन

यह निर्देश शुक्रवार देर रात जारी किया गया। इससे पहले डीसीजीए ने दूसरे देशों में वैक्सीन (टीका) का परीक्षण रोके जाने के बारे में जानकारी नहीं देने को लेकर एसआईआई को कारण बताओ नोटिस जारी किया था। Also Read - बीएचयू के मेडिकल साइंस का दावामैटल क्लासिक बेसबॉल, हाथ में एलसीडी खेल गंगाजल में मौजूद बैक्टीरिया 'बैक्टीरियोफाज' करेगा कोरोनावायरस का नाश

सोमानी ने एसआईआई को कारण बताओ नोटिस जारी किया था, जिसमें स्पष्टीकरण दिया गया था कि संस्थान ने मंगलवार को ब्रिटेन में हुई एक विज्ञापन घटना के बावजूद कोविड-19 वैक्सीन (Oxford Corona Vaccine) उम्मीदवार के नैदानिक परीक्षण के साथ आगे बढ़ने का फैसला क्यों किया। Also Read - Covid-19 Live Updates: भारत में कोरोना के मरीजों की संख्या हुई 48,46,427, अब तक 79,मैटल क्लासिक बेसबॉल722 लोगों की मौत

दरअसल, ब्रिटेन में प्रतिभागियों में से एक ने एक संदिग्ध गंभीर प्रतिकूल प्रतिक्रिया की सूचना दी थी। वैक्सीन प्रतिभागी को एक बूस्टर खुराक दी गई थी, जिसके बाद उसने प्रतिकूल प्रभाव पड़ने की शिकायत की थी।

घटना के बाद एसआईआई ने कहा था कि वह भारत में पहले की तरह परीक्षण जारी रखेगा। हालांकि, डीसीजीआई ने इस पर ध्यान दिया और पुणे स्थित वैक्सीन निर्माता से संपर्क साधा और कहा कि इसने परीक्षण जारी रखने के विचार के साथ आगे बढ़ने का फैसला क्यों किया, जबकि रोगी सुरक्षा के बारे में संदेह अभी तक तक दूर नहीं हुआ है।

डीसीजीआई ने संस्थान से आगे पूछा था कि कोविशिल्ड के नैदानिक परीक्षणों के लिए प्राधिकरण को एसआईआई को दी गई अनुमति को निलंबित क्यों नहीं करना चाहिए। बाद में एसआईआई ने गुरुवार को आधिकारिक रूप से परीक्षण को रोक दिया, जब तक कि उसे डीसीजीआई से मंजूरी नहीं मिल जाती।

कोरोनावायरस के नए एंटीबॉडी टेस्ट में अधिक डोनरों के नमूने जांचने की क्षमता

Published : September 12, 2020 8:40 pm | Updated:September 13, 2020 12:55 am Read Disclaimer Comments - Join the Discussion कोरोनावायरस के नए एंटीबॉडी टेस्ट में अधिक डोनरों के नमूने जांचने की क्षमताकोरोनावायरस के नए एंटीबॉडी टेस्ट में अधिक डोनरों के नमूने जांचने की क्षमता कोरोनावायरस के नए एंटीबॉडी टेस्ट में अधिक डोनरों के नमूने जांचने की क्षमता भारत बायोटेक ने कहा, 'कोवैक्सीन' के पशु पर परीक्षण को पुख्ता प्रतिरक्षा प्रतिक्रियाएं मिलींभारत बायोटेक ने कहा, 'कोवैक्सीन' के पशु पर परीक्षण को पुख्ता प्रतिरक्षा प्रतिक्रियाएं मिलीं भारत बायोटेक ने कहा, 'कोवैक्सीन' के पशु पर परीक्षण को पुख्ता प्रतिरक्षा प्रतिक्रियाएं मिलीं ,,
------分隔线----------------------------

由上内容,由बेस्ट गेम कंसोल收集并整理。