当前位置: बेस्ट गेम कंसोल > मैटल क्लासिक बेसबॉल > मैटल क्लासिक बेसबॉल भारत में लॉन्च हुई कोरोना की एक और दवा, सिर्फ 5 दिनों में मि
随机内容

मैटल क्लासिक बेसबॉल भारत में लॉन्च हुई कोरोना की एक और दवा, सिर्फ 5 दिनों में मि

时间:2020-09-15 06:07 来源:बेस्ट गेम कंसोल 点击:189
Coronavirus Drug भारत में लॉन्च हुई कोरोना की एक और दवा, सिर्फ 5 दिनों में मिलेगी राहत

Coronavirus Drug : कोरोनावायरस के मरीजों की संख्या दिन-ब-दिन बढ़ती जा रही है। वहींमैटल क्लासिक बेसबॉल, दुनियाभर में लगातार नई-नई वैक्सीन के लॉन्च करने की बात चल रही हैमैटल क्लासिक बेसबॉल, लेकिन फिलहाल भारत में अबतक किसी वैक्सीन को लॉन्च नहीं किया गया है। हालांकिमैटल क्लासिक बेसबॉल, वैज्ञानिक वैक्सीन को बनाने में दिन-रात एक करके मेहनत कर रहे हैं। फिलहाल मरीजों को दवाओं के जरिए आराम दिलाने की कोशिश की जा रही है। कोरोनावायरस से लड़ने के लिए मार्केट में एविगनमैटल क्लासिक बेसबॉल, फेविपिराविर जैसी कई दवाएं आ चुकी हैं। अब भारत में एक और दवा को लॉन्च किया (Coronavirus Drug) गया है। Also Read - लॉकडाउन से 78 हजार लोगों की जान बचाना हुआ मुमकिनमैटल क्लासिक बेसबॉल, 29 लाख कोविड मामलों से बच सका भारत, इलेक्ट्रॉनिक लाठी को रोकने में मदद मिली : हर्षवर्धन

कोरोना की नई दवा भारत में लॉन्च

भारत की मशहूर दवा कंपनी डॉ. रेड्डी लेबोरेट्रीज ने रेमडेसिविर दवा लॉन्च की है। यह दवा कोरोना के मरीजों के बेहतर इलाज में कारगर साबित हो सकती है। गिलीड साइंसेज इंक (गिलीड) लाइसेंस की व्यवस्था के तहत ही इस दवा का पंजीकरण, बिक्री और विनिर्माण का अधिकार दिया (Coronavirus Drug) गया है। Also Read - बीएचयू के मेडिकल साइंस का दावा, गंगाजल में मौजूद बैक्टीरिया 'बैक्टीरियोफाज' करेगा कोरोनावायरस का नाश

यह दवाई देशभर के गंभीर कोरोना के लक्षणों वाले मरीजों को दी जाएगी। रेमडेसिवीर लक्षणों को कम करने के साथ-साथ इम्यूनिटी को भी बढ़ाने में मदद कर सकती है।  100 मिलीग्राम की छोटी शीशी में यह दवा उपलब्ध होगी। इसे बिना पर्चे के भी मेडिकल स्टोर से खरीदी जा सकती है। मालूम हो कि पिछले महीने ‘एविगन’ (Avigan) दवा भी इसी कंपनी द्वारा लॉन्च किया गया था। यह दवा कोरोना के हल्के लक्षणों वाले मरीजों को दी जाती है। Also Read - Covid-19 Live Updates: भारत में कोरोना के मरीजों की संख्या हुई 48,46,427, अब तक 79,मैटल क्लासिक बेसबॉल722 लोगों की मौत

रेमडेसिवियर से 5 दिन में मिलेगा आराम

कंपनी के द्वारा ट्रायल किए जाने पर निष्कर्ष निकला था कि यह दवा सिर्फ 5 दिनों के अंदर मरीजों को राहत मदिला सकती है। ट्रायल में जिन मरीजों को यह दवा दी गई थी, उनमें 31 प्रतिशत रिकवरी तेजी से हुई है। बता दें कि एंटी वायरल दवा रेमडेसिवियर सार्स, मर्स,  इबोला और हेपेटाइटिस-सी जैसे खतरनाक वायरस का मुकाबला कर चुकी है।

मरीजों के हालत में 50% सुधार

गिलीड, कैलीफोर्निया की गिलीड साइंसेज दवा कंपनी है। इस कंपी के मुताबिक, मरीजों को लगातार 5 दिनों तक रेमडेसिवियर दवा दी जाए, तो उनमें 50% फर्क देखने को मिलेगा। वहीं, अगर मरीजों को लगातार 10 दिनों तक दवा दी जाए, तो इससे बेहतर रिजल्ट आ सकते हैं। हालांकि, अन्य दवाइयों के मुकाबले यह थोड़ी अधिक मंहगी है।

भारत में भी रूका ऑक्सफोर्ड की कोविड वैक्सीन AstraZeneca का क्लिनिकल ट्रायल

ICMR का दावा, प्लाज्मा थेरेपी से कम नहीं होता COVID-19 से मौत का खतरा

Published : September 12, 2020 9:22 am Read Disclaimer Comments - Join the Discussion मोटी जांघे वाले व्यक्ति को हाई ब्लड प्रेशर का खतरा होता है कम, वैज्ञानिकों का दावामोटी जांघे वाले व्यक्ति को हाई ब्लड प्रेशर का खतरा होता है कम, वैज्ञानिकों का दावा मोटी जांघे वाले व्यक्ति को हाई ब्लड प्रेशर का खतरा होता है कम, वैज्ञानिकों का दावा रात में खाने और सोने के बीच कितने घंटे का होना चाहिए अंतराल? जानें देर से खाने के नुकसानरात में खाने और सोने के बीच कितने घंटे का होना चाहिए अंतराल? जानें देर से खाने के नुकसान रात में खाने और सोने के बीच कितने घंटे का होना चाहिए अंतराल? जानें देर से खाने के नुकसान ,,
------分隔线----------------------------

由上内容,由बेस्ट गेम कंसोल收集并整理。